कोरोना जिला प्रशासन ने जारी की नई गाइडलाइन टीकाकरण अनिवार्य सभागृह खुले स्थानों के कार्यक्रमों में संख्या पर लगा आंशिक प्रतिबंध

बुलंद गोंदिया। कोरोना संक्रमण का प्रमाण कम होने के चलते जिला प्रशासन द्वारा प्रतिबंधों में छूट दी गई थी लेकिन अब फिर से कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा नई गाइडलाइन जारी की गई है जिसमें जिलाधिकारी नयना गुंडे द्वारा 30 नवंबर को जारी किए गए आदेश के अनुसार जिले के सभी शासकीय व निजी प्रतिष्ठानों में कार्यरत कर्मचारियों ,व्यक्तियों व यात्रा करने वाले नागरिकों के लिए कोरोना प्रतिबंधक वैक्सीन अनिवार्य किया गया है। इसके साथ ही सभाग्रह व खुले स्थानों में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने वालों की संख्या पर आंशिक प्रतिबंध लागू किया गया है।
गौरतलब है कि जिले में कुछ महीनों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में निरंतर कमी होने के चलते तथा जिले में टीकाकरण अभियान को बड़ी संख्या में प्रतिसाद मिलने के कारण स्थिति को देखते हुए आर्थिक, सामाजिक, मनोरंजन व सांस्कृतिक क्षेत्र में नियम और शर्तों के साथ प्रतिबंधों में छूट दी गई थी।
लेकिन फिर से कोरोना का असर दिखाई देने पर 27 नवंबर को संपूर्ण राज्य के लिए नये दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।
जिसके अंतर्गत जिलाधिकारी नयना गुंडे को दिए गए अधिकार के तहत गोंदिया जिले के लिए नई गाइडलाइन जारी की गई है।जिसके अंतर्गत कोविड-19 वैक्सीनेशन सभी के लिए अनिवार्य किया गया है ।तथा मुख्य रूप से शासकीय कार्यालय, सार्वजनिक प्रतिष्ठान, यात्रा करने वाले, किसी भी प्रकार के कार्यक्रम या संभाराम का आयोजन करने वाले तथा आयोजन में शामिल होने वाले सभी नागरिकों एवं खिलाड़ी अभी अभिनेता बाजार परिसर शॉपिंग मॉल सार्वजनिक परिवहन सेवा में यात्रा करने वाले यात्रियों को टीकाकरण करवाना अनिवार्य हैं। तथा 18 वर्ष कम उम्र के नागरिक को स्कूल प्रमाण पत्र रखना अनिवार्य हैं। इसके साथ ही आयोजित होने वाले किसी भी प्रकार के कार्यक्रम जिसमें सभागृह, सिनेमा ग्रह, नाट्य ग्रह, मंगल कार्यालय आदि स्थानों पर आंशिक प्रतिबंध लगाया गया है । जिसमें 50% तक की उपस्थिति पर ही मंजूरी दी जाएंगी एवं खुले स्थानों पर होने वाले कार्यक्रम, सम्मेलन आदि के लिए खुले स्थान की क्षमता का 25% तक की ही मंजूरी दी जाएंगी ।
1000 से अधिक नागरिकों के शामिल होने के कार्यक्रमों की जानकारी जिला आपदा प्रबंधन विभाग को देना होगा जैसे कि किसी भी प्रकार का सम्मेलन, मेला आयोजित होने पर इसकी जानकारी स्थानीय आपदा प्रबंधन विभाग को दिया जाना आवश्यक होंगा , जिसके पश्चात उपरोक्त स्थान पर निरीक्षक के रूप में प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे यदि इस दौरान कार्यक्रम में कोविड-19 संक्रमण नियमों का उल्लंघन होता दिखाई दिया तो उपरोक्त कार्यक्रम को आपदा प्रबंधन विभाग के प्रतिनिधि द्वारा कार्यक्रम को पूर्णता अथवा आंशिक रूप से बंद करने का अधिकार दिया गया है। आयोजन के पूर्व इसकी जानकारी जिला आपदा प्रबंधन विभाग को देना अनिवार्य होगा उपरोक्त कार्यक्रम में नियम और शर्तों को कम नहीं किया जा सकता किंतु समय की आवश्यकता के अनुसार उन्हें बढ़ाया जा सकता है इस प्रकार का आदेश गोंदिया की जिलाधिकारी व तथा अध्यक्ष जिला आपदा प्रबंधन नयना गुंडे द्वारा जारी किया गया है।
इसके साथ ही कोविड नियमावली जिसमें मास्क लगाने, हैंड वॉश करने, सामाजिक अंतर का पालन करने, भीड़ नहीं करनी आदि का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य हैं नियमों का उल्लंघन करने वालों पर शासन द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों के अनुसार जुर्माना व कार्रवाई की जाएंगी।

Share Post: