नकली बीड़ी का गढ़ बना गोंदिया जिला- मनोहर बीड़ी , 27 स्पेशल बीड़ी वह मंकी बाय बीड़ी के नकली कारखाने पर छापा एक हिरासत में

और भी लोग हो सकते हैं शामिल – मुकेश पटेल व्यवस्थापक सीजे पटेल टोबैको कंपनी
बुलंद गोंदिया। गोंदिया -भंडारा जिला बीड़ी उद्योग का गढ़ है। जिसमें अनेक नामी कंपनियों के ब्रांड का उत्पादन होता है। जिसमें मुख्य रुप से सीजे पटेल टोबैको कंपनी की मनोहरभाई पटेल की फोटो छाप मनोहर बीड़ी, 27 नंबर स्पेशल बीड़ी मंकी बाय बीड़ी का समावेश है, किंतु इन बड़े ब्रांडों के नाम पर कुछ कुछ लोग नकली बीड़ी का निर्माण बड़े ब्रांडों के नाम पर कर ब्रांड के का नाम खराब कर शासन के राजस्व को भी चूना लगा रहे हैं। इसी प्रकार का एक मामला आमगांव थाना अंतर्गत सामने आया जिसमें नकली बीड़ी का निर्माण करने वाले एक कारखाने पर छापामार कार्यवाही कर नकली बीड़ी वह निर्माण में लगने वाली सामग्री सहित एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है।
इस संदर्भ में सीजे पटेल कंपनी के व्यवस्थापक मुकेश सोमाभाई पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि नकली बीड़ी का निर्माण के मामले में और भी आरोपी सामने आ सकते हैं इस संदर्भ में आयोजित पत्र परिषद में व्यवस्थापक मुकेश सोमाभाई पटेल निवासी नडियाद जिला खेड़ा राज्य गुजरात वर्तमान में मनोहर काॅलोनी गोंदिया निवासी ने बताया कि छोटा भाई जेठा भाई पटेल टोबैको प्रोडक्ट्स कंपनी के व्यवस्थापक के पद पर कार्यरत हैं तथा उनकी और गोंदिया, भंडारा, नागपुर व छत्तीसगढ़ , मध्य प्रदेश के कुछ जिलों की जवाबदारी है तथा उन्हें गत कुछ माह से बाजार में कुछ लोग छोटा भाई जेठा भाई पटेल टोबेको प्रोडक्ट कंपनी के ब्रांड मनोहर फोटो छाप बीड़ी, 27 स्पेशल बीड़ी व मंकी बाय बीड़ी का नकली लेबल लगाकर बाजार में कम कीमतों में बेच रहे हैं। जिससे कंपनी को नुकसान होने के साथ ही शासन के राजस्व को भी नुकसान हो रहा है ।इसकी जानकारी प्राप्त होने पर उनके वह पुर्वेश पटेल की टीम द्वारा जांच शुरू की गई। उपरोक्त जांच में सामने आया कि आमगांव तहसील के कुम्भार टोली निवासी सुनील बोरकर नामक व्यक्ति सीजे पटेल कंपनी का लेबल लगाकर नकली बीड़ी का व्यवसाय कर रहा है। इस संदर्भ में टीम द्वारा आमगांव पुलिस को सूचना दी गई जिसमें पंचों के समक्ष कुंभार टोली के बिरसी ग्राम में स्थित मकान मालिक मनीराम आसाराम राहंगडाले के निवास पर छापामार कार्रवाई की गई तो उसे जानकारी प्राप्त हुई कि उनका घर किराए से सुनील बोरकर को दिया गया है जिसके द्वारा बड़ी निर्माण का कार्य किया जाता है। पुलिस द्वारा छापामार कार्रवाई किए जाने पर कारखाने में सुनील बोरकर दिखाई दिया तथा तलाशी लिए जाने पर 2 कमरों में रखे मनोहर फोटो बीड़ी, 27 स्पेशल बीड़ी बीड़ी के 6 बंडल अंदाज़ कीमत 12000 व 43 नंबर ब्रांड बीड़ी कीमत 6000, मदर इंडिया बीडी प्लास्टिक के पैकेट पुढ़े पर लगाने वाला होलोग्राम का निर्माण करने वाला सांचा इस प्रकार 21600 का माल जप्त किया गया।
उपरोक्त मामले में फरियादी की शिकायत के आधार पर रजिस्टर्ड ब्रांड के साथ धोखाधड़ी करने व नकली बीड़ी के पैकेट बनाने पर भादवि की धारा 420, 465 प्रतिलिपि अधिकार अधिनियम 1957 सुधारित अधिनियम 1984 व 1994 की धारा 51,53,63,64 के तहत कार्रवाई की गई तथा आगे की जांच आमगांव पुलिस थाने के पुलिस उप निरीक्षक प्रतिभा पाथोड़े द्वारा की जा रही है।

Share Post: