हत्या की वारदात को अंजाम देने के पूर्व ही चार आरोपी शहर पुलिस की हिरासत में शहर पुलिस की सफलता घातक हथियारों जप्त

बुलंद गोंदिया। गोंदिया शहर पुलिस की सतर्कता के चलते हत्या जैसी जघन्य वारदात को अंजाम देने जा रहे तीन नाबालिग आरोपियों सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर हत्या के उद्देश्य से ले जाए जा रहे घातक हथियारों को जप्त किया।
पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार 13 जनवरी की रात शहर पुलिस द्वारा रिंगरोड राजाभोज चौक के समीप गश्त लगाई जा रही थी।
इसी दौरान चार संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिए जिनमें से 3 नाबालिग युवक थे जिनकी उम्र अंदाजन 15 से 17 वर्ष थी उनकी गतिविधियां संदिग्ध होने पर उनकी तलाशी लिए जाने पर घातक हथियार बरामद किए गए। जिस पर कड़ाई से पूछताछ किए जाने पर आरोपियों द्वारा बताया गया कि वह हत्या के उद्देश्य से निकले थे । जिसमें तीन नाबालिग आरोपी द्वारा हत्या किए जाने की सुपारी ली गई थी।
प्रकरण इस प्रकार है कि ग्राम सटवां निवासी प्रवीण उर्फ सोनू युवराज राहंगडाले उम्र 25 वर्ष के पिता का विवाद पड़ोस की महिला से चल रहा था जिसमें मामला न्यायालय में विचाराधीन है। इसी विवाद के चलते सितंबर माह में परेशान होकर उसके पिता युवराज राहंगडाले ने आत्महत्या कर ली थी। पिता के आत्महत्या के कारण व उपरोक्त महिला को उसके पिता को परेशान करने में उसका नंनदोई डोगरगांव निवासी कटरे नामक व्यक्ति सहयोग कर रहा है। इसी के कारण उसके पिता ने आत्महत्या की थी जिससे आक्रोशित होकर भंडारा जिला के ग्राम देवड़ा के 3 नाबालिग यूवको को 50000 में हत्या की सुपारी देकर चारों आरोपी इस जघन्य वारदात को अंजाम देने के लिए निकले थे, किंतु गोंदिया शहर पुलिस की सतर्कता के चलते हत्या की वारदात को अंजाम देने के पूर्व ही चारों आरोपी पुलिस की हिरासत में पहुंच चुके हैं।
उपरोक्त मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ शहर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया उपरोक्त कार्रवाई शहर पुलिस निरीक्षक चंद्रकांत सूर्यवंशी के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस उपनिरीक्षक सागर पाटिल द्वारा मामले की जांच की जा रही है। तथा चारों आरोपियों को पकड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका पोहवा चौहान , मपोहवा चौहान, पोहवा मेश्राम वह सेंडे ने सराहनीय कार्य किया ।

Share Post: